हाथ तीन तरह के हैं: अल्लाह का हाथ जो सबसे ऊपर है, देने वाले का हाथ जो उस के बाद है और…

۞ हदीस: रसूल अल्लाह ﷺ ने फरमाया:

❝ हाथ तीन तरह के हैं: अल्लाह का हाथ जो सबसे ऊपर है, देने वाले का हाथ जो उस के बाद है और लेने वाले का हाथ जो सबसे नीचे है, लिहाज़ा जो ज़रूरत से ज़ाइद ( ज़्यादा ) हो उसे (अल्लाह की राह में, सदका या खैरात में) दे दो और अपने नफ़्स की बात मत मानो। ❞

📕 सुनन अबू दावूद; हदीस: 1649


۞ Hadees:  Rasool Allah ﷺ ne farmaya: “haath 3 tarha ke hain: Allah ka haath jo sabse upar hai, dene wale ka haath jo uske baad hai aur lene wale ka haath jo sab se neeche hai, lehaza jo zaroorat se zeyada ho usay de do aur apne nafs ki baat mat mano.”

📕 Sunan Abi Dawud: Al-Zakat 9, Hadith no. 1649-Sahih

Ahadees in HindiAhadit in HindiAll Hadees in Hindi ImagesBeautiful Hadees in HindiBest Hadees in HindiBest Hadith in Hindi for Whats AppBest Islamic Hadees in Hindi LanguageBest Islamic Quotes in HindiIslamic baatein in Hindiहदीस की बातें हिंदी में


Recent Posts