Browsing category

Maah-e-Ramzan

29 Ramzan: Hadees: Nabi-e-Kareem (ﷺ) ne Sadqa-e-Fitr Eid ki Namaz ke liye jaane se pehle pehle…

Ramadan Quotes: 29 – Ramzan: ✦ Roman Urdu: Ibn Umar (RaziAllahu Anhu) se riwayat hai ki: ❝Nabi-e-Kareem (ﷺ) ne Sadqa-e-Fitr Eid ki Namaz ke liye jaane se pehle pehle Nikalne ka Hukm diya.” ✦ हिंदी हदिस : इब्ने उमर (रदीअल्लाहू अन्हु) से रिवायत है की ❝अल्लाह के नबी (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने सदक़ा-ऐ-फ़ित्र ईद कि […]

Eid 2019: Eid ul Fitr Mubarak

Eid ka Asal Paigam | Eid Mubarak ki Dua रमज़ान के पूरे महीने में भूक और प्यास को बर्दाश्त करने के बाद ईद की ख़ुशी इस बाद की मिसाल है कि ज़िन्दगी की मुसीबतों पर सब्र करने के बाद कभी ना कम होने वाली जन्नत की खुशियाँ हैं। हदीसों से पता चलता है कि जन्नत […]

26 Ramzan – Hadees: Rozdaro ko Lagu aur Behuda Baaton se Paak karne ke liye Sadqa e Fitr

Ramadan Quotes: 26 – Ramzan: ✦ Roman Urdu: Ibn Abbas (RaziAllahu Anhu) se riwayat hai ki: ❝RasoolAllah ﷺ ne Rozdaro ko Lagu aur Behuda Baaton se Paak karne ke liye aur Miskeen ko khilane ke liye Sadqa-e-Fitr mukarrar farmaya.” ✦ हिंदी हदिस : इब्ने अब्बास (रदी अल्लाहू अन्हु) से रिवायत है की ❝रसूलल्लाह ने रोज़दारो […]

कजाए उमरी नमाज़ की हकीकत: हिंदी में

अक्सर रमजान का आखरी जुमा आने तक कजा नमाज वाली पोस्ट शोशल मिडीया पर वायरल होती रहती है, यह मैसेज किसने अपलोड किया, कोई नहीं जानता! लेकिन ताज्जुब इस बात का है के, यह कुछ मुसलमान भाई बिना सोचे समझे ऐसे मैसेज खूब फोर्वड कर रहे है , अल्लाह रेहम करे नतीजतन लोगों में बेशुमार […]

25 Ramzan: Al-Quran: Humne is Quran ko Mubaraq Raat (Shabe Qadr) me nazil kiya

Ramadan Quotes: 25 – Ramzan: ۞ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ۞ ✦ Roman Urdu: Allah Subhanahu wa Taala Quran me farmata hai: ❝Humne is Quran ko Mubaraq Raat (Shabe Qadr) me nazil kiya.❞ 📕 Surah Ad-Dukhan 44:3 ✦ हिंदी: अल्लाह सुब्हानहु व तआला क़ुरान में फरमाता है: ❝ हमने इस क़ुरआन को मुबारक रात (शबे कद्र) में नाज़िल […]

22 – Ramzan | Hadees: Shabe Qadr ki Dua

Ramadan Quotes: 22 – Ramzan: Ummul Momin Ayesha (R.A) ne arz kiya ki “Aye Allah ke Rasool (ﷺ) ! Agar Mujhe Shab-e-Qadr Naseeb ho jaye tou kya Dua karu?. Aap (ﷺ) ne farmaya: “ye kehna: ‘Allahumma Innaka ‘Afuwwuntuhibbul ‘Afwa Fa’fu ‘Anni.’ (Aye Allah tu muaf karne wala aur muaf karne ko pasand karta hai so mere bhi […]