Browsing category

हिंदी कोट्स

islamic status in hindi, islamic status for whatsapp in hindi, slamic status hindi, small hadees sharif in hindi, nabi ki hadees hindi, islamic whatsapp status in hindi, islamic quotes in hindi

तुम में सबसे अच्छा वह है जो अपनी क़ौम के लोगों के अत्याचार का विरोध करे और स्वयं वह पाप न करे।

पैग़म्बर मुहम्मद(ﷺ) ने फ़रमाया: “तुम में सबसे अच्छा वह है जो अपनी क़ौम के लोगों के अत्याचार का विरोध करे और स्वयं वह पाप न करे।” 📕 अबू दाऊद Source: islamshantihai.com

सताए हुए की ‘आह’ से बचो क्यूंकि उसके और अल्लाह के मध्य कोई रुकावट नहीं होती।

पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फरमाया कि: “सताए हुए की ‘आह’ से बचो क्यूंकि उसके और अल्लाह के मध्य कोई रुकावट नहीं होती।” (बुख़ारी) Source: islamshantihai.com

जो शख्स रिश्तेदारों का हक अदा करने के लिए सदके का दरवाज़ा खोलता है तो अल्लाह तआला उस की दौलत को बढ़ा देता है

♥ हदीसे नबवी (ﷺ) : रसूलअल्लाह (सलल्लाहू अलैहि वसल्लम) फरमाते है, “जो शख्स रिश्तेदारों का हक अदा करने के लिए सदके का दरवाज़ा खोलता है तो अल्लाह तआला उस की दौलत को बढ़ा देता है” – (मुस्नदे अहमद: 9624) Source: islamshantihai.com

किसी मोमिन (आस्तिक) के लिए ये उचित नहीं कि उसमें लानत करते रहने की आदत हो।

पैग़म्बर मुहम्मद ने फरमाया: “किसी मोमिन (आस्तिक) के लिए ये उचित नहीं कि उसमें लानत करते रहने की आदत हो।“ 📕 तिरमिज़ी Source: islamshantihai.com

अल्लाह रफ़ीक (नरम) है, नरमी को पसंद करता है तथा नरमी बरतने पर वह जो …

इस्लाम की एक विशेषता यह भी है कि यह लोगों के ऊपर दया था कृपा करने वाला धर्म है पैग़म्बर मुहम्मद ने फ़रमाया किः “अल्लाह रफ़ीक (नरम) है, नरमी को पसंद करता है तथा नरमी बरतने पर वह जो कुछ देता है सख़्ती बरतने पर नहीं देता। [मुस्लिम] Source: islamshantihai.com

31 Aug | Al-Quran: Jo Zakaat tum Allah ki khushnoodi haasil karne ke iraade se dete ho

۞ Jo Zakaat tum Allah ki khushnoodi haasil karne ke iraade se dete ho, to jo log bhi aisa karte hain, woh (apne maal ko) kayi guna badha lete hain..” 📕 Quran; Ar-Rum 30:39 ۞ जो ज़कात तुम अल्लाह की खूशनूदी हासिल करने के इरादे से देते हो, तो जो लोग भी ऐसा करते हैं, […]

27 Aug | Hadees: Bagair Majboori Qarz lene se bacho

۞ Hadees: Anas (R.A.) se riwayat hai ke, RasoolAllah (ﷺ) ne farmate hai ke “(Bagair majboori) Qarz lene se bacho; is liye ke qarz raat mein ranj wa gam aur din mein zillat wa ruswaayi ka sabab hai.” 📕 Shoaib Ul Iman 5554 ۞ हदिस: अनस (र.अ.) से रिवायत है के अल्लाह के रसूल (सलल्लाहु […]

22 Aug | Al-Quran: Badi kharaabi hai aise shakhs ke liye, jo peeth pichhe dusron par Aib lagaane waala

۞ Badi kharaabi hai aise shakhs ke liye, jo peeth pichhe dusron par Aib lagaane waala (aur) munh par taana dene ka aadi ho.” 📕 Quran; Al-Humaza 104:1 ۞ बडी खराबी है एसे शख्स के लिये, जो पीठ पीछे दूसरों पर एब लगाने वाला (और) मुंह पर ताना देने का आदी हो।” 📕 अल-कुरान; सुरह […]

20 Aug | Hadees: Apne marne waalon ki achchaiyon ko yaad kiya karo

۞ Hadees: Abdullah bin Umar (R.A.) se riwayat hai ke, RasoolAllah (ﷺ) ne farmate hai ke “Apne marne waalon ki achchaiyon ko yaad kiya karo aur un ki buraaiyon ko bayaan na karo.” 📕 Sunan Abu Dawood: 4900 ۞ हदिस: अब्दुल्लाह बिन उमर (र.अ.) से रिवायत है के अल्लाह के रसूल (सलल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने […]