Browsing category

इस्लाम सब के लिए

रमज़ान का महिना … जानिए: इसमें क्या है हासिल करना ?

हम मुसलमानों ने कुरआन की तरह रमज़ान को भी सिर्फ सवाब की चीज़ बना कर रख छोड़ा है, हम रमज़ान के महीने से सवाब के अलावा कुछ हासिल नहीं करना चाहते इसी लिए हमारी ज़िन्दगी हर रमज़ान के बाद फ़ौरन फिर उसी पटरी पर आ जाती है जिस पर वो रमज़ान से पहले चल रही […]

मस्जिद को बम से उड़ाने के ख्वाब देखने वाला खुद बन गया मुसलमान।

इस्लाम से बेइंतहा नफरत करने वाला एक शख्स कभी मस्जिद को बम से उड़ाना चाहता था लेकिन अब उसने खुद ही इस्लाम कबूल कर लिया। ‘द संडे प्रोजेक्ट’ नामी टॉक शो से रिचर्ड मैकिने नाम के एक शख्स ने अपनी अनोखी कहानी शेयर की है। रिचर्ड इंडियाना के रिटायर्ड मैरीन अफसर हैं। घर लौटने के […]

इस्लाम सुलह और शांति सिखाता है

♥ मफहूम-ऐ-हदीस ﷺ अल्लाह के नबी (सलल्लाहो अलैहि वसल्लम) ने एक रोज़ सहाबा से फ़रमाया – “क्या मै तुम्हे उस चीज़ के बारे में न बता दू जिसका दर्जा रोज़े , नमाज़ , सदके से भी ज्यादा ?” लोगो ने जवाब दिया: ए अल्लाह के रसूल! हमे जरुर बताये ! आप (सलल्लाहो अलैहि वसल्लम) ने […]

जिहाद का अर्थ और गलत धारणायें – Jihad ki Haqeeqat by Acharya Swami Lakshmi Shankar

❝ अन्याय , अत्याचार और आतंकवाद के खिलाफ किया गया प्रयास ही जिहाद है ❞ स्वामी लक्ष्मी शंकराचार्य Misconception about Jihad by Swami Lakshmi Shankarachary, Jihad ka matlab by Swami Lakshmi ShankaraCharya, jihad in quran, jihadi meaning, jihad ki paribhasha, jihad ka vastavik arth, Quran me jihad ka naam kyu aaya, Islam ka vastavik sandesh

Kyu Humesha Musalmano ko fasaya jata hai?

दुनिआ में कही भी कोई हादसा हो तो इल्ज़ाम हमेशा मुसलमानो पर ही क्यों लगाया जाता है और कौन ऐसा करते है ? जानिए इसकी सच्चाई Aksar Crimes ke Muamlo me Muslims hi nazar Aatey hai, aur Media bhi musalmaano ko hi nishana banati hai, to aayiye jantey hai Isaki Asal Wajah kya hai ? […]

Sharab se bacho kyunki wo har burayi ki chabi hai

❝ शराब से बचो इसलिए क्यूंकि वो हर बुराई की चाबी है।❞ अल्लाह के अंतिम पैगम्बर (ﷺ) (हदिस: मुस्तदरक: ७३१३) ❝ Sharab se bacho isiliye kyunki wo har burayi ki chabi hai.❞ Allah ke Rasool (ﷺ) (Hadith: Mustadrak: 7313) ❝ Do not drink wine, for it is the key to all evils.’” Sayings of Prophet (ﷺ) […]

इस्लाम विरोधी पुस्तक लिखने के बाद डच राजनेता अब खुद बन गए मुस्लिम

पूर्व सुदूरवर्ती डच राजनेता ने सोमवार को घोषणा की कि उन्होंने इस्लाम धर्म अपना लिया है। इस्लाम पर एक किताब लिखने वाले 39 वर्षीय जोराम वान क़्लावेरेन के विचार बदल गए और उन्होंने पिछले अक्टूबर में धर्मपरिवर्तन किया। वान क़्लावेरेन ने 2010 से 2014 तक दूर-दायी और मुस्लिम-विरोधी स्वतंत्रता पार्टी (PVV) के लिए संसद के […]

खाड़ी युद्ध के दौरान तीन हजार अमेरिकी सैनिकों ने अपनाया था इस्लाम

क्या आपने भी सुना था कि खाड़ी युद्ध के दौरान तीन हजार अमेरिकी सैनिकों ने इस्लाम अपना लिया था। यह सच है। बहुत कम लोग जानते हैं कि इस बदलाव के पीछे कौन हैं? जिन लोगों ने इस्लाम की यह दावत इन अमेरिकी सैनिकों तक पहुंचाई उनमें से एक अहम शख्सियत हैं डॉ. अबू अमीना […]

Babri Masjid: बाबरी मस्जिद गिराने में शामिल रहे बलबीर सिंह और उनके २ दोस्तों ने इस्लाम अपनाकर मस्जिदें बनवाईं

Kar Sevak Balbir Singh was part of Babri masjid demolition. He later converted himself to Islam and became Mohammed Aamir. “They plan, and Allah plans. Surely, Allah is the Best of planners” # Holy Quran 8:30 ✦ Keywords: Babri Masjid,Babri Masjid ayodhya, kaar sevak ayodhya, kaar seva ayodhya, balbir singh kar sevak , balbir singh […]

पैगंबर मुहम्मद साहब ﷺ कि भविष्यवाणी वैद और पुराणो मे – Prophet Muhammad (pbuh) in Hindu scripture

✦ Last Messenger of God in “Bhawishya Puran” इस पोस्ट में हम आपकी सेवा में कुछ ऐसे प्रमाण पेश कर रहे हैं जिन से सिद्ध होता है कि “कल्कि अवतार” अथवा “नराशंस” जिनके सम्बन्ध में वैदिक धार्मिक ग्रन्थों ने भविष्यवाणी की है वह मुहम्मद (सलल्लाहो अलैहि वसल्लम) ही हैं। क्योंकि कुछ स्थानों पर स्पष्ट रूप […]

Guru Nanak : पैगम्बर मुहम्मद ﷺ साहब के बारे में, गुरु नानक जी के सुनहरे विचार

〘 प्यारे नबी सल्ललाहो अलैहि वसल्लम की शान, गुरु नानक जी की नज़र में 〙 नबी (सल्ललाहो अलैहि वसल्लम) की अ़ज़मत और महानता का बयान हर इंसाफ पसंद शख्सियत ने किया है। उन्हीं में से एक नाम गुरु नानक जी का भी है। आईये इस पोस्ट में हम गुरु नानक जी के उन सुनहरे विचारो को […]

इस्लाम से पहले क्या था – What was the before Islam ?

✦ प्रायः यह पूछा जाता है कि इस्लाम से पहले कौन सा धर्म था ? ✦ अगर इस्लाम ही सच्चा धर्म है तो क्या उससे पहले के व्यक्ति की मुक्ति कैसे होगी ?. यह अक्सर प्रश्न नॉन-मुस्लिम भाई पूछते रहते हैं। वैसे इसका एक मुख्य कारण है क्यूं कि वे समझते हैं कि इस्लाम मुहम्मद (सलल्लाहो […]

अज़ान का मतलब क्या है और क्यू दी जाती है ? (meaning of Azan in Hindi by Brother Imran)

आजकल देखा जाता है के अज़ान के बारे में हमारे गैरमुस्लिम भाइयो में काफी गलतफहमिया पायी जाती है, उनतक सही जानकारी न पहुँचाने की वजह से वे इस्लाम के बारे में शको शुभात में मुब्तेला है , आईये इस मुख़्तसर से वीडियो के वसीले से हम अज़ान के बारे में उनकी जो गलतफहमिया है उन्हें […]

भारत का मुसलमान इतना पिछड़ा हुआ क्यों है ?

भारत मे यह पूरी तरह मान लिया गया है कि मुसलमान एक जाहिल ,गंवार, फूहड़ ,गंदी और बुध्दू क़ौम है, जबकि मेरा मानना है कि क़ुदरती सलाहियत यानि नैचुरल टैलेंट जितना मुसलमान मे है उतना दुनिया की किसी दूसरी क़ौम मे नही, हम सिर्फ़ आज के पसमंज़र मे बात करते हैं , किसी भी ख़राब […]

इस्लाम क्या सिखाता है ?

इस्लाम की तालीम क्या है ?, इस्लाम का सन्देश, इस्लाम क्या सिखाता है ?, इस्लाम कैसा संसार चाहता है ?, इस्लाम की निति क्या है ? इसके बारे में जानने के लिए इस छोटे से पोस्ट पर जरुर गौर करे ,. ? इस्लाम यह कहता है कि हमें एक ईश्वर को पुजना चाहिए जो हम […]

नमाज का आसान तरीका हिंदी में

✦ नमाज़ की शर्ते नमाज़ की कुछ शर्ते हैं. जिनका पूरा किये बिना नमाज़ नहीं हो सकती या सही नहीं मानी जा सकती. कुछ शर्तो का नमाज़ के लिए होना ज़रूरी है, तो कुछ शर्तो का नमाज़ के लिए पूरा किया जाना ज़रूरी है. तो कुछ शर्तो का नमाज़ पढ़ते वक्त होना ज़रूरी है, नमाज़ […]

इस्लामी शाशन का आधार न्याय पर है, जिसकी आज सख्त जरुरत है ….

✦ इस्लामी शिक्षा के आधार पर शान्तिपूर्ण शासन की स्थापना हुई है !! इस्लाम इंसानियत के सामने जो नियम और संविधान प्रस्तुत करता है चाहे उसका सम्बन्ध जीवन के किसी भी क्षेत्र से हो वह मानव प्रकृति से पूरे तौर पर मेल खाला है, इस्लामी शरीयत में एक विद्वान कहीं भी देशी छाप या कबाइली […]

क्यों हो जाते है लोग इतने बेहरहम ? क्या इन्हें खुदा का खौफ नहीं है ?

सदियों से हम इन्सानो पर हो रहे ज़ुल्म की दास्ताँ सुनते आ रहे है, ज़ालिम इस हद्द तक क़त्ले आम करते है मानो वो इन्सान ही न हो, वो जिस किसी भी रब की इबादत करते हो उसे उसका खौफ ही न हो,.. जैसा की मौजूदा दौर में सीरिया में जो कुछ क़त्ले आम हो […]

इस्लाम से प्रॉब्लम ! किसको और क्यों ?

आज दुनिया भर में इस्लाम से जलने वालो की कमी नहीं है, क्यूंकि इस्लाम कहता है – #सच बोलो – तो सारे झूठे और दगाबाजो को प्रॉब्लम | #चोरी #रिश्वत #सूद से बचो – तो सारे घोटाला बाजो को प्रॉब्लम | #शराब से दूर रहो – तो सारे बेवडो को प्रॉब्लम | #अमन के साथ […]

Janiye Maine Kyu Qabula Islam : Ex Hindu Activist Revert to Islam

इस्लाम की बद्दनामी के लिए दिन रात बेशुमार मनसूबे किये जाते है, लेकीन वो लोग भूल जाते है के इस्लाम कायनात के रब के उसूलो का नाम है, लिहाजा ये लोग जितनी भी चाले चल ले इनकी हर चाल लोगो को अल्लाह दीन की तरफ बुला रही है, ऐसा ही एक वाकिया हमारे गैरमुस्लिम भाई […]

जब कानून के रखवाले नहीं करेंगे अपना काम , तो जानिए क्या होगा उनका अंजाम ?

एक अरसे पहले इन्टरनेट पर दो पुलिस वालो का आपस में लड़ता हुआ विडियो वायरल हो गया था, तहकीक के बाद पता चला के आपसी इख्तेलाफ़ (मतभेद) के चलते उनमे लडाई हुई ,. मुझे बताइए ? इनके साथ डिपार्टमेंट ने क्या किया होगा ? जी हा आपने बिलकुल सही ख्याल किया, उन दोनों ससपेंड कर […]

गुलामो का ये कहना के नाकिस है ये किताब, सिखाती नहीं हमे गुलामी के उसूल: डॉ. अल्लामा इकबाल

Gulaamo ka ye kehna ke naqees hai ye kitaab (Quran), Sikhaati nahi hume Gulaami ke usool: Dr.Allama Iqbal दुनिया परस्ती के फ़ितनो में मुब्तेला होकर अल्लाह की नाजिल करदा किताब (कुरान) से दूरी इख़्तियार करने वाले बाज़ मुसलमानों का नजरिया बयांन करते हुए डॉ.अल्लामा इकबाल अपने अशार में कहते है के: गुलामो का ये कहना […]

३ साल की कड़ी मेहनत के बाद राजीव भाई ने पेश किया कुरान का मारवाड़ी अनुवाद

जी हाँ ! जहा आज दुनिया भर में कुरान और इस्लाम के खिलाफ न जाने कितनी किताबे लिखी जा रही है, वही अल्लाह के फज्लो करम से कुरान के पैगामे हक को लोगो में आम करने की खिदमत में भी अल्लाह के बन्दे दिन रात कड़ी से कड़ी मेहनत कर रहे,.  ताज्जुब की बात तो […]

धर्म क्या है, और इसकी उत्पति कैसे हुयी ?

• सवाल 1. धर्म क्या है, और इसकी उत्पति कैसे हुयी ? • सवाल 2. आप धर्म को क्यों मानते हो और जीवन मै इसका क्या महतव है ? » जवाब: ● धर्म……… धर्म मौलिक मानवीय मूल्यों (अच्छे गुणों) से आगे की चीज़ है। अच्छे गुण (उदाहरणतः नेकी, अच्छाई, सच बोलना, झूठ से बचना, दूसरों […]

Zameen ki Shakl ke bare me Janiye kya kehta hai Quran (Shape of the earth in Quran)

अक्सर गैरमुस्लिम हज़रात कुरान की सुरह ७९ की आयत ३० के सबब ये ग़लतफहमी रखते है के कुरआन के तहत ज़मीन की शक्ल फ्लैट है, तो आईये उनकी इस ग़लतफहमी का इजाला करने इस मुख़्तसर सी विडिओ का मुताला करते है .. – बराए मेहरबानी इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारा तावून करे! […]

मुसलमान से आप की दुश्मनी धार्मिक है या राजनैतिक

जी हा ! सोशल मीडिया पर मुसलमानों ने कुछ सवाल पूछना शुरू कर दिया है उनका कहना है जो लोग हमारे खिलाफ ज़हर उगलते है वो इन सवालो का जवाब दें या गौर करें कि क्या सिर्फ राजनीती के लिए हमारे खिलाफ ज़हर उगला जाता है। मौजूदा हालात में फैलती नफरत के बीच आजकल मैं […]

जानिए – क्यों मनायी जाती है बकरी ईद

ईद उल अज़हा को सुन्नते इब्राहीम भी कहते है। इस्लाम के मुताबिक, अल्लाह ने अपने नबी(प्रेषित) हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की परीक्षा लेने के उद्देश्य से अपनी सबसे प्रिय चीज की कुर्बानी देने का हुक्म दिया। – हजरत इब्राहिम को लगा कि उन्हें सबसे प्रिय तो उनका बेटा है इसलिए उन्होंने अपने बेटे की ही बलि […]

इस्लाम की मूल आस्थाये

इस्लाम की मुल आस्थाये ३ है , जिन्हें मानना सम्पूर्ण मानवजाति के लिए अनिर्वाय (Compulsory) है | १) तौहिद – एकेश्वरवाद (एक इश्वर में आस्था रखना) २) रिसालत – प्रेशित्वाद (इशदुत, नबी, Messengers) ३) आखिरत – परलोकवाद (मृत्यु के बाद का जीवन) पहली अनिर्वाय आस्था – तौहीद दूसरी अनिर्वाय आस्था – रिसालत तीसरी अनिर्वाय आस्था – आखिरत

अल्लाह कौन है – अल्लाह का परिचय और विशेषताएं

हमारे मन में यह प्रश्न बार बार उभरता है कि अल्लाह कौन है ? वह कैसा है ? उस के गुण क्या हैं ? वह कहाँ है ? अल्लाह का शब्द मन में आते ही एक महान महिमा की कल्पना मन में पैदा होती है जो हर वस्तु का स्वामी और रब हो। उसने हर […]

आखिरत – इस्लाम की तीसरी अनिर्वाय आस्था

आखिरत का अर्थ होता है – परलोकवाद (अंतिम प्रलय या मृत्यु के पच्छात जीवन पर विश्वास): *जैसे के: हम इस जीवन से पहले मृत्य थे, इश्वर(अल्लाह) ने हमे पृथ्वी पर भेजा (जीवन दिया).. तो एक मृत्यु और उसके बाद ये जीवन एक हुआ ,. इस जीवन के बाद फिर एक मृत्यु है और उस मृत्यु […]

Dunia ko sabse Jyada Fayda pohchane walo ki Suchi me Pehla Naam Hai Muhammad (ﷺ)

Muhammad (Salallaho Alaihi Wasallam) – The Most Influential person in history by Michael H. Hart (Muhammad No.1) १९७८ में अमेरिका के एक बोहोत ही मशहूर फिलोसोफेर माइकल हार्ट ने एक किताब लिखी जिसमे उन्होंने दुनिया के सबसे पहले इन्सान से लेकर १९७८ तक के जितने भी ऐसी शख्सियत गुजरी जिनका दुनिया पर सबसे बडे पैमाने […]