Browsing category

गुनाह

और व्यभिचार (adultery) के निकट भी न जाओ।

कल्याणकारी मधुर संदेश इस्लाम समाज में फैली किसी भी बुराई जैसे (चोरी/बलात्कार/शराब…आदि) से न सिर्फ रोकता है बल्कि उसे मिटाने के तरीके भी बताता है। “और ज़िना (व्यभिचार) के निकट भी न जाओ, नि:सन्देह यह बहुत ही घृणित काम और बुरा रास्ता है।” पवित्र कुरआन (17:32) सबसे पहले तो इस्लाम लोगों को आध्यात्मिक स्तर पर […]

Sharab se bacho kyunki wo har burayi ki chabi hai

❝ शराब से बचो इसलिए क्यूंकि वो हर बुराई की चाबी है।❞ अल्लाह के अंतिम पैगम्बर (ﷺ) (हदिस: मुस्तदरक: ७३१३) ❝ Sharab se bacho isiliye kyunki wo har burayi ki chabi hai.❞ Allah ke Rasool (ﷺ) (Hadith: Mustadrak: 7313) ❝ Do not drink wine, for it is the key to all evils.’” Sayings of Prophet (ﷺ) […]