Bahut Gumaan Karne Se Bacha Karo, Ke Baaz Gumaan Gunaah Hai

बहुत से गुमान (बद) से बचे रहो क्यों कि बाज़ बदगुमानी गुनाह हैं

♥ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ♥

“Aye Emaan Waalon! Bahut Gumaan Karne Se Bacha Karo, Ke Baaz Gumaan Gunaah Hai,
Aur Ek-Dusre Ke Aib Na Tatola Karo, Aur Na Koi Kisi Ki Geebat Kiya Kare ,.
Kya Tum Me Koi Iss Baat Ko Pasand Karega Ke Apne Murde Bhai Ka Gosht Khaye.
Is Se Tou Tum Nafrat Karte Ho, Aur Allah Se Darte Raha Karo,
Bila Shuba Allah Khoob Taubah Qubool Karne Wala Reham Wala Hai.”

– (Al-Quran, Surah Hujurat 49:12)

♥ बिस्मिल्लाह अर्रहमान निर्रहीम ♥

“ऐ ईमानदारों बहुत से गुमान (बद) से बचे रहो क्यों कि बाज़ बदगुमानी गुनाह हैं और आपस में एक दूसरे के हाल की टोह में न रहा करो और न तुममें से एक दूसरे की ग़ीबत करे क्या तुममें से कोई इस बात को पसन्द करेगा कि अपने मरे हुए भाई का गोश्त खाए तो तुम उससे (ज़रूर) नफरत करोगे और अल्लाह से डरो, बेशक अल्लाह बड़ा तौबा क़ुबूल करने वाला मेहरबान है “

– (अल-कुरान सुरह हुजरात 49:12)

For more Islamic messages kindly download our Mobile App

Baaz Gumaan Gunaah HaiBest Islamic Quotes in HindiGeebatGumaanGunaahHadith about Backbiting / GheebatNafratReham
Comments (0)
Add Comment


Recent Posts