Australia Fire: आस्ट्रेलिया में मुसलमानों की नमाजे इस्तसक़अ पढ़ते ही हुई तेज़ बारिश

सुभान अल्लाह! आस्ट्रेलिया में मुसलमानों की नमाज़ इस्तसक़अ (استسقاء) पढ़ते ही हुई तेज़ बारिश, ईसाई हैरान।

पिछले दो दिन से जिस आग ने 480 मिलियन जानवर जला दिये दुनिया की कोई जदीद टेक्नोलॉजी आग न बुझा सकी आज वहाँ एक नमाज़ ने लाखों लोगों की जान बचा ली, यह है इस्लाम की बरकत यह है दुनिया के लिए अल्लाह की तरफ से एक मोअजिज़ह (Miracle)कि कोई नहीं आग को बुझा सका सिवाय अल्लाह के।

وَھُوَ الَّذِیۡ یُنَزِّلُ الۡغَیۡثَ مِنۡۢ بَعۡدِ مَا قَنَطُوۡا وَیَنۡشُرُ رَحۡمَتَہٗ ؕ وَھُوَ الۡوَلِیُّ الۡحَمِیۡدُ ﴿۲۸﴾

“और वही(अल्लाह) है जो लोगो के नाउम्मिद हो जाने के बाद बारिश बरसाता है और अप नी रहमत फैला देता है। वही (अल्लाह) है कार साज और तारीफ के काबील।”  कुराण (28)

सोर्स: Dailymail.co.uk

और भी देखे :

Australia fireIslamic Hindi NewsIslamic Newsislamic news in hindiMojza
Comments (0)
Add Comment


Recent Posts


क्यों हो जाते है लोग इतने बेहरहम ? क्या इन्हें खुदा का खौफ नहीं है ?

? सिरिया में हो रहे क़त्ले आम से हम तमाम के लिए क्या नसीहत वाजेह होती है ? जानने के लिए एक बार इस पोस्ट को जरुर पढ़े और इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारी मदद करे ,. जजाकल्लाह खैर,..


भूत, प्रेत, बदरूह की हकीकत

क्या इन्सान वाकय में मरने के बाद भुत बन जाता है? अगर नहीं तो भुत प्रेत क्या है? ये इंसानों को क्यों तकलीफ पोहचाते है? इनसे कैसे बचा जाये ? तफ्सीली जानकारी के लिए जरुर इस पोस्ट का मुताला करे और इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारी मदद करे ,. जज़ाकअल्लाहु खैरण कसीरा