25. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख हज़रत इस्हाक़ (अ.) की पैदाइश अल्लाह की कुदरत शक्ल व सूरत का मुख्तलिफ होना एक फर्ज के बारे में: रुकू व सज्दा अच्छी तरह करना एक सुन्नत के बारे में: किसी मंजिल से चलते वक़्त नमाज़ पढ़ना एक अहेम अमल की फजीलत: बुरी […]

Buri nazar lagne se insan ki maut bhi ho jati hai

۞ Hadees: Abdul rahman bin jabir (RaziAllahu anhu) apne walid se bayan karte hain ki RasoolAllah (ﷺ) ne farmaya “Meri ummat ke aksar log jo Allah subhanahu ki kitab aur uske faisle aur uski taqdeer ke baad faut honge wo nazar lagne se honge.” 📕 Al-Silsila-tus-Sahiha, 3238 ✦ Tashreeh : Buri nazar se bade se […]

17. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख हजरत सालेह (अ.) की दावत और कौम का हाल अल्लाह की कुदरत दीमक एक फर्ज के बारे में: इल्म हासिल करना एक सुन्नत के बारे में: बीवियों को सलाम करना एक अहेम अमल की फजीलत: आफत व बला दूर होने की दुआ एक […]

13. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख कौमे नूह पर अल्लाह का अजाब अल्लाह की कुदरत जम जम का पानी एक फर्ज के बारे में: हज किन लोगों पर फर्ज है एक सुन्नत के बारे में: दाई करवट सोना एक अहेम अमल की फजीलत: सखावत इख़्तियार करना एक गुनाह के […]

8. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख हजरत शीस (अ.) हुजूर (ﷺ) का मुअजीजा:बैतुल मुक़द्दिस के बारे में खबर देना एक सुन्नत के बारे में: तक्बीरे तहरीमा के बाद की दुआ एक अहेम अमल की फजीलत: दसवीं मुहर्रम का रोज़ा एक गुनाह के बारे में: जान बूझ कर क़त्ल करना […]

25. जिल हिज्जा | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख औरंगजेब आलमगीर (रह.) की दीनी व इल्मी खिदमात अल्लाह की कुदरत मच्छर एक फर्ज के बारे में: खड़े हो कर नमाज़ पढ़ना एक सुन्नत के बारे में: कसरत से अल्लाह का जिक्र करना एक अहेम अमल की फजीलत: जन्नत का खज़ाना एक गुनाह […]

24. जिल हिज्जा | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा 5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख औरंगजेब आलमगीर (रह.) का दौरे हुक़ूमत एक फर्ज के बारे में: वारिसीन के दर्मियान विरासत तक्सीम करना एक सुन्नत के बारे में: तीन चीज़ों से पनाह मांगना एक गुनाह के बारे में: किसी पर तोहमत लगाना गुनाह अज़ीम है दुनिया के बारे […]

23. जिल हिज्जा | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख औरंगज़ेब आलमगीर (रह.) अल्लाह की कुदरत तेल एक फर्ज के बारे में: बीमार की नमाज़ एक सुन्नत के बारे में: दुआ के वक्त हाथों को उठाना एक गुनाह के बारे में: झूठी कसम खाने का वबाल दुनिया के बारे में: दुनिया का कोई […]

Kala Jaadu (Black Magic) karne wala Jadugar jab ICU mein admit hua

Kala Jaadu karne wala Jadugar jab ICU mein admit hua, suniye uska kya haal hua., hairatnaak aur ibratnaak waqiya Doctor ki zubani jisne us jadugar ka ilaaj marte dum tak kiya !! काला जादू करने वाला जादूगर जब ICU में एडमिट हुआ। Related Post भूत-प्रेत, काला जादू और शैतानी मुसीबतों से बचने का इलाज कुरणों […]

[140+] Islamic Quotes in Hindi | पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहब (ﷺ) की शिक्षाओं की एक झलक

1 समस्त संसार को बनाने वाला एक ही मालिक अल्लाह हैं। वह निहायत मेहरबान और रहम करने वाला है। उसी की ईबादत (पूजा) करो और उसी का हुक्म मानो। 2 अल्लाह ने इन्सान पर अनगिनत उपकार किए हैं। धरती और आकाश की सारी शक्तियॉ इन्सानों की सेवा मे लगा दी हैं। वही धरती और आकाश […]

17. जिल हिज्जा | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख सुलतान सलाहुद्दीन अय्यूबी (रह.) अल्लाह की कुदरत बर्फीले पहाड़ एक फर्ज के बारे में: सुबह की नमाज अदा करने पर हिफाज़त का जिम्मा एक सुन्नत के बारे में: अपने बच्चों से प्यार व मुहब्बत करना एक अहेम अमल की फजीलत: कुरआन की तिलावत […]

16. जिल हिज्जा | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा5 Minute Ka Madarsa in Hindi इस्लामी तारीख सुलतान नूरुद्दीन जंगी (रह.) हुजूर (ﷺ) का मुअजीजा:गूंगे का अच्छा होना एक फर्ज के बारे में: मज़दूर को पूरी मजदूरी देना एक सुन्नत के बारे में: नफा बख्श इल्म के लिए दुआ एक अहेम अमल की फजीलत: यतीम की पर्वरिश करना एक गुनाह […]

बेहतरीन बीवी और बेहतरीन शौहर की पहचान

1 बेहतरीन बीवी की पहचान ✓ जो अपने शौहर की फरमाबरदारी और ख़िदमत गुज़ारी को अपना फ़र्ज़-ऐ-अज़ीम समझे। ✓ जो अपने शौहर के तमाम हुक़ूक़ अदा करने में कोताही न करें। ✓ जो अपने शौहर की खूबियों पर नज़र रखे और उसके ऐब और खांमियों को नज़र-अंदाज़ करती रहे। ✓ जो खुद तकलीफ उठा कर […]