25. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हज़रत इस्हाक़ (अ.) की पैदाइश, (2). शक्ल व सूरत का मुख्तलिफ होना, (3). रुकू व सज्दा अच्छी तरह करना, (4). किसी मंजिल से चलते वक़्त नमाज़ पढ़ना, (5). बुरी मौत से हिफाज़त का जरिया, (6). माँ बाप पर लानत भेजने का गुनाह, (7). आदमी का दुनिया में कितना हक़ है, (8). अहले जहन्नम पर दर्दनाक अजाब, (9). हलीला से हर बीमारी का इलाज, (10). कुरआन को गौर से सुनना।

सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा
5 Minute Ka Madarsa in Hindi

  1. इस्लामी तारीखहज़रत इस्हाक़ (अ.) की पैदाइश
  2. अल्लाह की कुदरतशक्ल व सूरत का मुख्तलिफ होना
  3. एक फर्ज के बारे मेंरुकू व सज्दा अच्छी तरह करना
  4. एक सुन्नत के बारे मेंकिसी मंजिल से चलते वक़्त नमाज़ पढ़ना
  5. एक अहेम अमल की फजीलतबुरी मौत से हिफाज़त का जरिया
  6. एक गुनाह के बारे मेंमाँ बाप पर लानत भेजने का गुनाह
  7. दुनिया के बारे मेंआदमी का दुनिया में कितना हक़ है
  8. आख़िरत के बारे मेंअहले जहन्नम पर दर्दनाक अजाब
  9. तिब्बे नबवी से इलाजहलीला से हर बीमारी का इलाज
  10. क़ुरान की नसीहतकुरआन को गौर से सुनना

1. इस्लामी तारीख

2. अल्लाह की कुदरत

3. एक फर्ज के बारे में

रुकू व सज्दा अच्छी तरह न करने पर वईद

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़र्माया :

बदतरीन चोरी करने वाला शख्स वह है जो नमाज़ में से भी चोरी कर ले, सहाबा ने अर्ज किया : या रसूलल्लाह (ﷺ) ! नमाज़ में से कोई किस तरह चोरी करेगा ? फर्माया : वह रुकू और सज्दा अच्छी तरह से नहीं करता है।”

📕 इब्ने खुजैमा : ६४३


4. एक सुन्नत के बारे में

5. एक अहेम अमल की फजीलत

6. एक गुनाह के बारे में

7. दुनिया के बारे में

8. आख़िरत के बारे में

9. तिब्बे नबवी से इलाज

10. क़ुरान की नसीहत

Share on:

Leave a Comment