"the best of peoples, evolved for mankind" (Al-Quran 3:110)
Browsing Tag

Quraan-e-Majid

Fazail-e-Quraan: Part 1

Bismillah-Hirrahman-Nirrahim" (Allah Ke Naam Se Shuru Jo Nihayat Maherbaan Aur Rahem Wala Hai”) *Hum Sab Jantey Hai Ke Koi Bhi Ek Musalman Chahe Imaan Ke Aitbaar Se Jis Bhi Darje Ka Ho, Har Shakhs Ke Nazdik Iss Kitab Ki Badi Ahmiyat Hai,..…

Pahle Baatin Ko Sawaaron Fir Jaahir Ko Baad Me! ….

♥ Qaul-e-Mubarak: Hazrate Abdul Qadir Jilani (Rahmatullah Alayh) Farmate Hai - "Quraan Ka Ek Kinara Allah Ke Hath(Dast-e-Qudrat) Me Hai Aur Dusra Makhlooq Ke Hath Me, Bas Isi Ko Allah Ta'ala Tak Pahuchne Ka Wasila Banaao Amal Karke! Pehle…

Quraan-e-Majid Huzoor Ka Aayinadar Hain! …..

» Azeem Haqikat: Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Arbi (Arab Ke) Hain Tou Quraan Bhi Arbi! Jab Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Makka Me They Tou Waha Par Jo Wahi(Paigam) Allah Ta'ala Ki Jaanib Se Aap Per Nazil Hui Wo…

पवित्र क़ुरान में मानवता का सन्देश ….

!! वैसे तो पवित्र कुरान पूरा ही मानवता के सदेश से भरा है, लेकिन फ़िलहाल हम यहाँ कुछ ही बातो का जिक्र कर रहे है ... » अल्लाह के नाम से शुरू जो बड़ा कृपालु और अत्यन्त दयावान हैं.!! : @ » “और जो लोग तुमसे लड़ते हैं, तुम भी अल्लाह की राह में…

कुरान का विषय आखिरत की हिदायत है ….

हर किताब का एक विषय होता है, जिस पर वो लिखी जाती है। कुरान का विषय आखिरत की हिदायत है, कुरआन लोगों को ये याद दिलाने आया है कि लोगों तुम इत्तिफ़ाक़ से नही बने, बल्कि एक बहुत बड़ी योजना के तहत तुमको तुम्हारे हिक़मत (Wisdom) वाले रब ने बनाया है,…