"the best of peoples, evolved for mankind" (Al-Quran 3:110)
Browsing Tag

Aksar Log Imaan Ke Dawey Ke Bawajud Siwaay Shirk Ke Aur Kuch Bhi Nahi Karte

अल्लाह वालो की सिफत

एक बार हज़रत उमर रज़ियल्लाहु अनहु बाज़ार में चल रहे थे। वह एक शख्स के पास से गूज़रे जो दुआ कर रहा था। "ऐ अल्लाह!! मुझे चन्द लोगों में शामिल कर।" "ऐ अल्लाह मुझे चन्द लोगों में शामिल कर।" उमर रज़ियल्लाहु अन्हु ने उससे पूछा। "यह दुआ तुमने…

Kya Musalman bhi Shirk kar sakta hai ?

Aksar Log Humse aisa Sawal Karte hai Ke - "Kya Musalman Kabhi Shirk Kar Sakte Hai ?" Tou Aayiye Shariyat kya kehti Iskey Talluk Se Ye Jaan Letey hai ,.. » Mafhoome Hadees: Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Farmate Hai Ke –…