Mout Ki Tamanna Hargiz Na Kare

♥ Mafhoom-e-Hadees: Abu Hurairah (Razi’Allahu Anhu) Se Riwayat Hai Ki,
Rasool’Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Ne Farmaya:

“Tum Me Se Koyi Maut Ki Tamanna Na Kare Kiyun Ki, Agar Woh Nek Hai Tou Ho Sakta Hai Woh Aur Zyada Nekiyan Kar Le Aur Agar Woh Gunahgaar Hai Tou Shayad Woh (Nek Amal Kar ke) Apne Allah Ko Raazi Kar Le.”

– (Sunan An-Nasayi, 1819)

♥ मफहूम-ऐ-हदीस: अबू हुरैराह (रज़ीअल्लाहु अन्हु) से रिवायत है, रसूलअल्लाह (सलाल्लाहू अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया:

“तुम में से कोई मौत की तमन्ना ना करे, क्यंकि अगर वो नेक है तो हो सकता है वोह और ज्यादा नेकिया कर ले और अगर वोह गुनेहगार है तो शायद वोह (नेक अमल कर के) अपने अल्लाह को राज़ी कर ले”

– (सुनन अन निसाई, 1819)

For more Islamic messages kindly download our Mobile App

You might also like

Leave a Reply

avatar