Browsing Category

Social Impact

क्यों हमेशा ईद मिलाद की मुखालिफत की जाती है ? जानिए एक कड़वा सच

एक अरसे तक मुनाफिको ने हमारे नबी (स.) की वफात के दिन १२ रब्बिउल अव्वल को जश्न मनाया, और ये तारीख १२ वफात के नाम से मशहूर हुई, इसी नाम से यहाँ स्कूल और सरकारी छुट्टिया दी जाती रही. लेकिन जब उम्मत में शऊर आने लगा और लोग सवाल करने लगे के १२…
Read More...

माशाल्लाह! शादी की सालगिरह में ऐसा काम, किया मंदिर और मस्जिद दोनो ने इन्तेजाम

अस्सलामो अलैकुम , मैं मोहम्मद इम्तियाज,जिस तरह अपने शादी के वक्त एक कैंपेन,"एंटी डोरी कैंपेन लड़कियां रहमत है जहमत नहीं" की शुरुआत की थी। और वलीमा के जगह को तख्तियों पर मैसेज लिख कर लोगों को मैसेज देने की कोशिश की थी। उसी तरह शादी के 1 साल…
Read More...

रोहिंग्या मुसलमान कौन हैं और इन पर इतना ज़ुल्म क्यों ?

रोहिंग्या मुसलमान बौद्ध बहुल देश म्यांमार के रखाइन प्रांत में शताब्दियों से रह रहे हैं। इनकी आबादी क़रीब दस लाख से 15 लाख के बीच है। लगभग सभी रोहिंग्या म्यांमार के रखाइन (अराकान) में रहते हैं और यह सुन्नी इस्लाम को मानते हैं। रोहिंग्या…
Read More...

जानिए – क्यों मनायी जाती है बकरी ईद

ईद उल अज़हा को सुन्नते इब्राहीम भी कहते है। इस्लाम के मुताबिक, अल्लाह ने अपने नबी(प्रेषित) हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की परीक्षा लेने के उद्देश्य से अपनी सबसे प्रिय चीज की कुर्बानी देने का हुक्म दिया। - हजरत इब्राहिम को लगा कि उन्हें सबसे…
Read More...

आज़ादी मुबारक …. ये आज़ादी हमें याद दिलाती है (Happy Independence Day)

*तमाम हिन्दोस्तानी भाई बहनों को यौम-ए-आज़ादी मुबारक(happy independence day).... ये आज़ादी हमें याद दिलाती है, कि हम उन ज़ालिम अंग्रेजो से मुकाबला कर के कभी उनके चंगुल से छूट न पाएँ, इसलिए 1857 की आज़ादी की पहली जंग के बाद अंग्रेजो ने…
Read More...

जो ATS ना कर सकी वो मीडिया ने कर दिखाया | आतंकवाद के इलज़ाम में बेगुनाह मुसलमानों को फसाया

सूत्रों के अनुसार पता चला के कल उत्तर प्रदेश के देवबंद से ६ मुसलमानो को आतंकी होने के शक में गिरफ्तार कर लिया गया, फिर पूरी तहकीक के बाद ATS ने उन्हें बाइज्ज़त बरी भी कर दिया,.. ऐसी मीडिया के लिए २१ तोपों की सलामी तो बनती है जो बेगुनाह…
Read More...

सहरी के लिए उठे मुसलमानों ने बचाई आग से कई लोगो की जान

लन्दन: 14 June लन्दन के टावर में लगी भयानक आग में जिन लोगों ने सबसे ज्यादा मदद की वो मुस्लिम युवा थे.. चूँकि रमजान चल रहा है इसलिए सुबह अँधेरे में ही मस्जिद में चहल पहल थी और मस्जिद के सारे युवा आग देख कर निकल पड़े थे लोगों को बचाने के लिए|…
Read More...

Crimes me Humesha Bikau Media ko Musalman hi Kyu nazar Aatey hai ?

अक्सर क्राइम्स के मुआमलो में मुस्लिम्स ही नज़र आते है, और मीडिया भी मुसलमानों को ही निशाना बनाती है , तो आईये जानते है इसकी असल वजह क्या है ? .. *बराए मेहरबानी इस मुख़्तसर सी विडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारा तावून करे,.. -…
Read More...

जब मस्जिदों का असल हक़ हुआ अदा और खोला गया गैरमुस्लिमो के लिए दरवाजा

केरला: देशभर में 7 मई को मेडिकल कॉलेजों में नीट का एग्ज़ाम था. ये एग्जाम सुबह 10.00 बजे से 01 बजे तक होना था. लेकिन एक्साम सेंटर बड़े शहरों में होने के कारण स्टूडेंट्स को जल्दी ही एक्साम सेंटर के लिए निकलना पड़ा. सीबीएसई की और से छात्रों को…
Read More...