Browsing Category

Eid-Ul-Adha ~Qurbani

Eid-Ul-Adha, Qurbani Eid Mubarak, Kurban Bayram, Eid Al-Bakr , Bakri Eid, Kurbani Eid

जानिए – क्यों मनायी जाती है बकरी ईद

ईद उल अज़हा को सुन्नते इब्राहीम भी कहते है। इस्लाम के मुताबिक, अल्लाह ने अपने नबी(प्रेषित) हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की परीक्षा लेने के उद्देश्य से अपनी सबसे प्रिय चीज की कुर्बानी देने का हुक्म दिया। - हजरत इब्राहिम को लगा कि उन्हें सबसे…

पैग़म्बर मुहम्मद (सल्ल॰) का विदायी अभिभाषण (इस्लाम में मानवाधिकार)

पैग़म्बर मुहम्मद (सल्ल॰) ईश्वर की ओर से, सत्यधर्म को उसके पूर्ण और अन्तिम रूप में स्थापित करने के जिस मिशन पर नियुक्त किए गए थे वह 21 वर्ष (23 चांद्र वर्ष) में पूरा हो गया और ईशवाणी अवतरित हुई : ‘‘...आज मैंने तुम्हारे दीन (इस्लामी जीवन…

जानिए- क्यों मनाई जाती ही क़ुरबानी ईद ? (क़ुरबानी की हिक़मत)

"कह दो कि मेरी नमाज़ मेरी क़ुरबानी 'यानि' मेरा जीना मेरा मरना अल्लाह के लिए है जो सब आलमों का रब है" - (कुरआन 6:162) *बकरा ईद का असल नाम "ईदुल-अज़हा" है, मुसलमानों में साल में दो ही त्यौहार मजहबी तौर पर मनाए जाते हैं एक "ईदुल फ़ित्र" और दूसरा…

हज की हिकमत ( Hajj ki Hikmatain )

यह बात हर मुसलमान जानता है कि हज इस्लाम की बुन्यादों में से एक है, और हज अदा करने के फज़ाईल भी लोग आम तौर पर जानते ही हैं लेकिन अक्सर मुसलमान "हज की हिकमत (Logic)" से अनजान हैं और जिस इबादत से हिकमत निकल जाती है वह इबादत एक बेजान जिस्म की…

Sawal: Qurbani Kitney Din Tak Ki Ja Sakhti Hai ?

» Jawaab: Qurbani 4 Din Tak Ki Ja Sakhti Hai Lekin Afzal Eid Ka Din Hai !! ♥ Mafhoom-e-Hadees: Jabeer Bin Muut'am (Razi'Allahu Anhu) Se Rivayat Hai Ke, Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Ne Fermaya - "Tashreeq Ke Tamaam Din (Yani…

ईद उल अजहा (क़ुरबानी ईद) मुबारक ।।। ….

ईद उल अजहा (क़ुरबानी ईद) हर मुसलमान के लिए एक अहम मौका होता है ।।। कुछ लोगो की गलतफहमी है कि इस्लाम की स्थापना मुहम्मद (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने की,... ये बात वो बिना लेखक की फालतु किताब वाले बोलेंगे जिन्हे इस्लाम के नाम से हमेशा डराया…

Dikhawe Ki Qurbani Allah Ke Yaha Maqbul Nahi ,…

♥ Al-Quraan: Bismillah-Hirrahman-Nirrahim !!! “Beshaq Allah Ta'ala Ko Na Tou Tumhare Qurbani Ka Gosht Pohochta Hai Aur Naa Hi Khoon ! Magar Ha Uss Tak Tumhari Parhezgaari Pohochti Hai!” - * Sabaq!!! *Aaj Humare Qurbaniyo Ka Kya…

Qurbani Ki Dua (Bismillahi, Allahu Akbar) ,…

♥ Mafhoom-e-Hadees: Hazrate Anas (Razi'Allahu Anhu) Farmate Hai, Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Ne - "Do Safaid Rang Ke Aur Seengho Wale Maindhey Zibah Kiye !! Maine Dekha Ke Aap (Sallallahu Alaihay Wasallam) Apna Pao Uski…